Promotion of the staff working in CORE without compelling them to physically join in their railway / कोर में कार्यरत कर्मचारियों को उनकी रेलवे में कार्यभार ग्रहण करने के लिए बाध्य किए बिना पदोन्‍नत करना: Railway Board Order RBE No. 107/2022

Promotion of the staff working in CORE without compelling them to physically join in their railway / कोर में कार्यरत कर्मचारियों को उनकी रेलवे में कार्यभार ग्रहण करने के लिए बाध्य किए बिना पदोन्‍नत करना: Railway Board Order RBE No. 107/2022

Promotion of the staff working in CORE without compelling them to physically join in their railway / कोर में कार्यरत कर्मचारियों को उनकी रेलवे में कार्यभार ग्रहण करने के लिए बाध्य किए बिना पदोन्‍नत करना: Railway Board Order RBE No. 107/2022

RBE No.107/2022

भारत सरकार/GOVERNMENT OF INDIA
रेल मंत्रालय/MINISTRY OF RAILWAYS
(रेलवे बोर्ड/RAILWAY BOARD)

No. (NG)I-2022/AP/1

New Delhi, dated 01.09.2022

The General Managers (P)
All Zonal Railways & PUs
(as per standard mailing list)

Sub: Promotion of the staff working in CORE without compelling them to physically join in their railway.

AS the Railway administrations are aware, at present target based speedy electrification is going on over Railways by CORE. To complete this huge target of electrification, the availability of staff is absolutely necessary. CORE is manned by staff taken from Zonal Railways who have their lien on the Zonal Railways. Due to the stiff targets for the electrification projects, CORE is facing difficulty in sparing the staff to their parent Railways to physically carry out their promotions. Similar difficulty is being faced at the time of transfer of lien of the staff from one Zonal Railway to another, with Zonal Railways insisting on relieving the staff for affecting the lien transfer etc.

Keeping in view the stiff targets set by the Board for completion of the electrification projects, Railways are requested to consider as far as possible, the requests of CORE for not insisting, on the physical repatriation of employees in CORE, on their promotion or when their lien is fixed /transferred to another Railway.

Read also |  Re-engagement of retired Group-C staff in Railways - Review of Policy [RBE No.52/2020]

This disposes off CORE’s DO.No. CORE/E/NG/EL/Part-V dated 12.04.2022

(Sanjay Kumar)
Deputy Director Estt.(N)
Railway Board
Tele No. 23303658


आरबीई सं. 107/2022

भारत सरकार/GOVERNMENT OF INDIA
रेल मंत्रालय/MINISTRY OF RAILWAY
(रेलवे बोर्ड/RAILWAY BOARD)

सं. ई(एनजी)।-2022/एपी/1

नई दिल्‍ली, दिनांक 01.09.2022

महाप्रबंधक (कार्मिक)
सभी क्षेत्रीय रेलें एवं उत्पादन इकाइयां
(मानक डाक सूची के अनुसार)

विषय: कोर में कार्यरत कर्मचारियों को उनकी रेलवे में कार्यभार ग्रहण करने के लिए बाध्य किए बिना पदोन्‍नत करना।

जैसा कि रेल प्रशासन को ज्ञात है, वर्तमान में कोर द्वारा रेलों में लक्ष्य आधारित विद्युतीकरण का कार्य तेज़ी से चल रहा है। विद्युतीकरण के इस विशाल्र लक्ष्य को पूरा करने के लिए, कर्मचारियों की उपलब्धता अत्यंत आवश्यक है। कोर को क्षेत्रीय रेलों से लिए गए कर्मचारियों दवारा चलाया जाता है जिनका लियन क्षेत्रीय रेलों में होता है। विदुयुतीकरण परियोजनाओं के कठिन लक्ष्यों के कारण, कोर को कर्मचारियों को पदोन्‍नति पर उनकी मूल्न रेलवे में कार्यभार ग्रहण करने के लिए स्पेयर करने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। कर्मचारी के लियन को एक क्षेत्रीय रेलवे से दूसरे क्षेत्रीय रेलवे में स्थानांतरण के समय भी समान कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है, क्‍योंकि क्षेत्रीय रेलें कर्मचारियों को कार्यभार मुक्त करने पर ज़ोर दे रही है ताकि लियन स्थानांतरण आदि पर प्रभाव न पड़े।

Read also |  Railway Provident Fund - Rate of interest from 1st July 2020 to 30th September 2020

विद्युतीकरण परियोजनाओं को पूरा करने के लिए बोर्ड द्वारा निर्धारित कठिन लक्ष्यों को ध्यान में रखते हुए, रेलों से अनुरोध किया जाता है कि कर्मचारियों की पदोन्‍नति पर अथवा जब उनका लियन अन्य रेलवे में निर्धारित/स्थानांतरित किया जाता है तो जहां तक संभव हो कोर से कर्मचारियों के भौतिक प्रत्यावर्तन पर ज़ोर न देने के कोर के अनुरोध पर विचार करे।

इससे कोर के दिनांक 12.04.2022 के अ.शा. सं. कोर/ई/एनजी/ईएल/पार्ट-V का निपटारा हो जाता है।

(संजय कुमार)
उपनिदेशक, स्थापना (एन)
रेलवे बोर्ड

Source: Click to view/download PDF

COMMENTS