सेवानिवृत्ति की आयु बढ़ाने हेतु प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद ने दिया सुझाव

सेवानिवृत्ति की आयु बढ़ाने हेतु प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद ने दिया सुझाव

सेवानिवृत्ति की आयु बढ़ाने हेतु प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद ने दिया सुझाव

EAC-PM: पीएम से जुड़ी इस समिति ने दिया रिटायरमेंट की उम्र बढ़ाने का सुझाव, पेंशन बढ़ाने की भी सिफारिश

सार

प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद ने सुझाव दिया है कि देश में लोगों के काम करने की उम्र सीमा बढ़ानी चाहिए। आईएफसी ने भारत में बुजुर्ग लोगों के लिए प्रति माह 1,500 रुपये से 2,500 रुपये के पेंशन के भुगतान की सिफारिश की है।

विस्‍तार

प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद (EAC-PM) की ओर से इंस्टीट्यूट फॉर कॉम्पिटेटिवनेस (IFC) द्वारा किए गए एक अध्ययन ने सरकार को सेवानिवृत्ति की आयु बढ़ाने और एक यूनिवर्सल पेंशन आय कार्यक्रम शुरू करने का सुझाव दिया है। आईएफसी ने भारत में बुजुर्ग लोगों के लिए प्रति माह 1,500 रुपये से 2,500 रुपये के पेंशन के भुगतान की सिफारिश की है।

प्रति माह 1,500 – 2,500 रुपये के पेंशन के भुगतान की सिफारिश

यह अध्ययन आर्थिक सलाहकार परिषद द्वारा वित्तीय कल्याण, सामाजिक कल्याण, स्वास्थ्य और आय सुरक्षा जैसे मानकों पर भारत में बुजुर्ग आबादी के जीवन की गुणवत्ता का आकलन करने के लिए शुरू किया गया था। इकोनॉमिक टाइम्स के अनुसार, आईएफसी ने भारत में बुजुर्ग लोगों के लिए प्रति माह 1,500 रुपये से 2,500 रुपये के पेंशन के भुगतान की सिफारिश की है। आईएफसी द्वारा की गई सिफारिशों में देश में न्यूनतम मजदूरी से कम से कम 50 फीसदी अधिक पेंशन भुगतान शामिल है।

Read also |  NCCPA letter on problems and difficulties encountered by the CGHS beneficiaries 

पुरानी योजनाओं के तहत राशि ‘जल्द से जल्द बढ़ाने की जरूरत

रिपोर्ट में कहा गया है कि कोविड-19 महामारी के प्रभाव के कारण इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना और इंदिरा गांधी राष्ट्रीय विधवा पेंशन योजना जैसी मौजूदा पुरानी योजनाओं के तहत राशि ‘जल्द से जल्द बढ़ाने की जरूरत है।’ मौजूदा समय में इन योजनाओं के तहत 300 से 500 रुपये तक की पेंशन मिलती है। आगे सुझाव दिया गया कि सरकार अटल पेंशन योजना को मजबूत करे और अनौपचारिक क्षेत्र के श्रमिकों को इसके दायरे में लाए।

2050 तक देश में 31.9 करोड़ होगी वृद्धों की संख्या

मालूम हो कि वर्ष 2011 में देश में 60 वर्ष से ज्यादा उम्र के बूढ़े लोगों की संख्या 10.3 करोड़ थी। यह कुल आबादी की लगभग 8.6 फीसदी थी। बुजुर्गों की आबादी में तीन फीसदी प्रति वर्ष तक की वृद्धि हो रही है। अनुमान है कि 2050 तक देश में वृद्धों की संख्या 31.9 करोड़ (कुल का 19.5 फीसदी) हो जाएगी। सेवानिवृत्ति की आयु बढ़ाने का सुझाव इसे बढ़ती लाइफ एक्सपेक्टेंसी के साथ संरेखित करना है।

increase-in-retirement-age-suggestion-eac-pm

Read at Amar Ujala.

COMMENTS